Chinu Kala-300 रुपये लेकर 15 की उम्र में घर छोड़ दिया, आज करोड़ों की कंपनी चला रही हैं

Chinu Kala-वास्तव में किसी को भी अचानक सफलता नहीं मिलती है। एक व्यक्ति वर्षों की कड़ी मेहनत, कई ठोकरें, नीचे गिरने और वापस उठने के माध्यम से अपनी स्थिति प्राप्त करता है। कभी न झुकने या रुकने की आदत ही इंसान को सितारों से आगे रखती है। अगर हम एक महिला के बारे में बात कर रहे हैं, तो प्रकृति ने उसे दुनिया को संभालने की ताकत दी है। गौरतलब है कि लड़कियों और महिलाओं को उड़ान भरने की अनुमति नहीं है। कुछ लोग इसका श्रेय भाग्य को देते हैं, लेकिन कुछ अपने हाथों से बेड़ियों को तोड़ते हैं, पंख फैलाते हैं, और अगर समाज महिलाओं को उड़ने से मना करता है, तो वे अपना खुद का आकाश बना सकते हैं।

Chinu Kala: 300 रुपये लेकर 15 की उम्र में घर छोड़ दिया, आज करोड़ों की कंपनी चला रही हैं
Chinu Kala: 300 रुपये लेकर 15 की उम्र में घर छोड़ दिया, आज करोड़ों की कंपनी चला रही हैं (From Google)

मैंने घर-घर जाकर चाकू बेचे।

चीनू को नौकरी की सख्त जरूरत थी। देश की नौकरी और बेरोजगारी की समस्या जगजाहिर है। चीनू को काम खोजने में भी परेशानी होती थी। कई दिनों तक घूमने के बाद उसे सेल्सवुमन की नौकरी मिल गई। चीनू के काम में घर-घर जाकर चाकू, कोस्टर और अन्य सामान बेचना शामिल था। दिन भर की मेहनत के बाद चीनू को मुश्किल से 20-60 रुपए हाथ में ही मिलते थे।

RS InfoTech
RS InfoTech

“यह 1990 के दशक के उत्तरार्ध में था, और चीजें अलग थीं,” चीनू कहती हैं। उस समय लोगों के साथ संवाद करने के लिए दरवाजे की घंटी बजाने का इस्तेमाल किया जा सकता था। मैं और मजबूत होता गया क्योंकि और लोग मेरे चेहरे के दरवाजे बंद कर देते थे।
एक साल बाद चीनू को पदोन्नत किया गया और तीन अतिरिक्त लड़कियों को प्रशिक्षण देना शुरू किया। चीनू को सुपरवाइज़र के रूप में पदोन्नत किया गया और उसके वेतन में मामूली वृद्धि की गई। चीनू की सेल्स ट्रेनिंग यहीं से शुरू हुई, साथ ही एक ऐसा भविष्य जो उस समय एक खूबसूरत सपने जैसा लग रहा होगा।

More Updates