आपके नाम से कितने Sim Cards एक्टिव हैं? एक मिनट में चल जाएगा पता-बस यहां करे Click

नया Sim Cards प्राप्त करने के लिए आपको कभी-कभी पहचान दस्तावेजों, जैसे आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र या पासपोर्ट की आवश्यकता हो सकती है। एक आधार कार्ड से अधिकतम 9 सिम कार्ड खरीदे जा सकते हैं। हालांकि, प्रत्येक प्रदाता द्वारा प्रत्येक सिम कार्ड का उपयोग नहीं किया जा सकता है। एक ऑपरेटर द्वारा छह सिम कार्ड स्वीकार किए जा सकते हैं। हमें संदेह है कि कोई और हमारे नाम से पंजीकृत सिम कार्ड का बार-बार उपयोग करता है। यदि आप ऐसा महसूस करते हैं, तो घबराने की कोई आवश्यकता नहीं है क्योंकि आप जल्दी से यह निर्धारित कर सकते हैं कि आपके नाम पर कितने सिम कार्ड हैं। आइए जानें कैसे…

आपके नाम से कितने Sim Cards एक्टिव हैं? एक मिनट में चल जाएगा पता; बस यहां करे Click
आपके नाम से कितने Sim Cards एक्टिव हैं? एक मिनट में चल जाएगा पता; बस यहां करे Click

इस पोर्टल पर कर सकते हैं चेक

इसका पता लगाने के लिए आपको सरकार के दूरसंचार विभाग द्वारा संचालित वेबसाइट पर जाना होगा। आप उस सिम को भी ब्लॉक कर सकते हैं जिसे आपकी आईडी का उपयोग करके धोखाधड़ी से प्राप्त किया गया था। यदि आप अब सिम कार्ड का उपयोग नहीं करते हैं और इसे अपने आधार कार्ड से मिटाना चाहते हैं तो अब आप इसे तुरंत बंद कर सकते हैं। दूरसंचार विभाग में पोर्टल निर्माण शुरू हो गया है। इसका संक्षिप्त नाम, TAFCO, धोखाधड़ी प्रबंधन और उपभोक्ता संरक्षण के लिए दूरसंचार विश्लेषिकी के लिए है।

कई बार फ्रॉड आपके नाम पर ले लेते हैं सिम

दरअसल, ऐसे कई हालात होते हैं जब आप इस बात से अनजान होते हैं कि आपकी आईडी (आधार कार्ड) पर कितने सिम सक्रिय हैं। साथ ही, स्कैमर अक्सर अपराध करने के लिए किसी की भी आईडी से लिए गए सिम कार्ड का उपयोग करते हैं। जिस व्यक्ति का नाम सिम पर है वह अब मुश्किल में है। ऐसे में आपकी आईडी पर कितने सिम कार्ड एक्टिव हैं, इसकी जानकारी आपको होनी चाहिए।

RS InfoTech
RS InfoTech

ऐसे चेक करें लिंक्ड SIM?

सबसे पहले वेबपेज https://www.tafcop.dgtelecom.gov.in पर जाएं।
अपना मोबाइल नंबर दर्ज करने के बाद आपके मोबाइल डिवाइस पर भेजे गए ओटीपी को भरें।
एक बार ओटीपी सबमिट करने के बाद, एक सूची दिखाई देगी। आपके संबद्ध सिम कार्ड की जानकारी इस सूची में शामिल की जाएगी।
आप इस सूची से उस नंबर को हटा सकते हैं जिसका आप उपयोग नहीं कर रहे हैं।
उपभोक्ता को एक ट्रैकिंग आईडी प्राप्त होगी। इससे नाजायज संख्या के आधार जारीकर्ता के खिलाफ की गई कार्रवाई का पता चलेगा।

Pilots Fall Asleep – 37 हजार फीट की ऊंचाई पर पायलट्स को आई नींद, प्लेन को लैंड कराना भूले